बुधवार, 24 अक्तूबर 2007

सभी पीछे पड़े हैं

एक बार फिर झारखण्ड में भोजपुरिया, मैथिल, बंगाली और उड़िया लोग द्वितीय राजभाषा की दावेदारी से झारखंडी भाषाओं को हटाने के लिए रांची की सड़कों पर लाठियाँ भांज रहे हैं। भोजपुरी लोग अपने ही गृह राज्यों यूपी आउर बिहार में भोजपुरी को राजभाषा का दर्जा नहीं दिला पाए हैं, तो मैथिल, बंगाली और उड़िया लोगों का अपने स्टेट भर से पेट नहीं भरा है। झारखण्ड की नौ आदिवासी एवं क्षेत्रीय भाषाओं का हक मारने के लिए भूखों की तरह चिल्ला रहे हैं। वाह रे मुख्यधारा और सभ्य समाज!

1 टिप्पणी:

Komal Patel ने कहा…

http://www.bollywooddhamaal.website

Bollywood News, Bollywood Gossips, Indian Actress and Actresses are the best place to know about Indian entertainers who can just reach all bollywood quality.

Bollywood News, Bolloywood Gossips, Indian Actress, Indian Actresses, Bollywood Heros, Bollywood Heroiens